आप भी सदस्य बनें-

Thursday, 11 June, 2009

कार्टून धमाका (सुरेश शर्मा कार्टूनिस्ट)

ब्लोग्वानी के माध्यम से पाठकों की अदालत में प्रस्तुत हैं ,मेरे नए कार्टून .............
आपकी टिपण्णी प्राप्त होती रहती है ,ऑस्ट्रेलिया में छात्रों पर हमले को लेकर
बने मेरे कार्टून पर एक पाठक ने लिखा -"कुत्ता तो वफादार होता है .....गधा बनाओ''
इसपर मैं कहना चाहूँगा -'बेचारा गधा तो निरीह प्राणी है, सदिओं से गधे को लोग,और गधा बनाते आ रहे हैं ! मेरी समझ से गधे से ज्यादा निर्बल प्राणी इस दुनिया में दूसरा कोई नही है ,
इसी लिए कम से कम जो कुछ ऑस्ट्रेलिया में चल रहा है उसमे गधे की कोई भूमिका नही है .......
इसी लिए मैंने कुत्ता बनाया ....
धन्यवाद ...
अपने कमेन्ट'स जरूर भेजना
इंतज़ार रहेगा !
.................................................................................................

मध्यान भोजन में बरती गई लापरवाही की सजा ---------------------------------------------

4 comments:

  1. सही और सामयिक निशाना। वाह।

    अपने टिप्पणी में आपने गधे के बारे में कुछ लिखा है। मैं अपनी सहमति देते हुए कहना चाहता हूँ कि-

    दुखित गधे ने एक दिन छोड़ दिया सब काम।
    गलती करता आदमी लेता मेरा नाम।।

    सादर
    श्यामल सुमन
    09955373288
    www.manoramsuman.blogspot.com
    shyamalsuman@gmail.com

    ReplyDelete
  2. bahut khoob magar isse kya hoga maa saab to saanp bhee hajam kar jaayenge...

    ReplyDelete
  3. सुरेश जी बढ़िया कार्टून है ...केचुआ ,छिपकली ,मेढक के बाद साँप ही बचा था ...

    ReplyDelete

आपकी एक टिपण्णी हमारा मनोबल बढ़ाएगी !